Searching...
Tuesday, May 5, 2015

सबके सुधि आहां लै छी हे अम्बे


सबके सुधि आहां लै छी हे अम्बे
हमरा किया बिसरै छी हे
हमरा किया बिसरै छी हे माता
हमरा किया बिसरै छी हे माता
हमरा किया बिसरै छी हे माता

छी हम पुत्र अहीं के जननी
छी हम पुत्र अहीं के जननी
से त आहां जनै छी हे
से त आहां जनै छी हे
एहन निष्ठुर किया आहां भेलौं
कनिको दृष्टि नहीं दै छी हे---
सबके सुधि आहां लै छी हे अम्बे
हमरा किया बिसरै छी हे

छन छन पल पल ध्यान करे छी
छन छन पल पल ध्यान करे छी
नाम अहीं के जपै छी हे
नाम अहीं के जपै छी हे
रैन दिवस हम ठाढ़ रहै छी
दरशन बिनु तरसै छी हे
रैन दिवस हम ठाढ़ रहै छी
दरशन बिनु तरसै छी हे
सबके सुधि आहां लै छी हे अम्बे
हमरा किया बिसरै छी हे

छी जगदम्बा जग अबलम्बा
छी जगदम्बा जग अबलम्बा
तारिनी तरनी बनै छी हे
तारिनी तरनी बनै छी हे
हमरा बेर किया नई तकै छी
पापी जानि ठेलै छी हे
हमरा बेर किया नई तकै छी
पापी जानि ठेलै छी हे
सबके सुधि आहां लै छी हे अम्बे
हमरा किया बिसरै छी हे
हमरा किया बिसरै छी हे माता
हमरा किया बिसरै छी हे माता
हमरा किया बिसरै छी हे माता

0 comments:

Post a Comment

loading...

advertisement

 
Back to top!