Page Nav

Grid

GRID_STYLE

True

TRUE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Breaking News:

latest

Ads Place

बाबा बैद्यनाथ हम आयल Baba Baijnath Hum Aael ---Maithili (Nachari) Sharda Sinha Lyrics

The poet while pleading with lord Shankar says that baba Baidyanath we have come to you door that is temple as a begger.  We come here to...


The poet while pleading with lord Shankar says that baba Baidyanath we have come to you door that is temple as a begger.  We come here to you with great hope please fulfill our desire .Have mercy on us once so that all  sorrow vanish .we will do everything for you. we will clean tiger for you. will pluck the flowers to worship you.

Baba Baijnath Hum Aael Is Maithili (Nachari) Sharda Sinha Lyrics Sung By Sharda Sinha. This Song Is Written By Traditional While Music Composed By Murli Manohar Swaroop. It’s Released By SaReGaMa.

फिल्म/एल्बम: बेस्ट ऑफ शारदा सिन्हा (Album: Best Of Sharda Sinha)

गायक: शारदा सिन्हा (Singer: Sharda Sinha)

गीतकार: पारंपरिक (Lyrics: Traditional)

संगीतकार: मुरली मनोहर स्वरूप (Music: Murli Manohar Swaroop)

लेबल: सारेगामा (Lable: SaReGaMa)



बाबा बैद्यनाथ हम आयल छी 

भिखरिया अहाँ के दुअरिया ना

बाबा बैद्यनाथ हम आयल छी 

भिखरिया अहाँ के दुअरिया ना


अइलों बड़ बड़ आस लगायल 

होहियो हमरा पर सहाय

अइलों बड़ बड़ आस लगायल 

होहियो हमरा पर सहाय

एक बेरी फेरी दियौ 

हो एक बेरी फेरी दियौ

गरीब पर नजरिया, 

अहाँ के दुअरिआ ना 


हम बाघम्बर झारी ओछायब 

डोरी डमरू के सरियाएब

हम बाघम्बर झारी ओछायब 

डोरी डमरू के सरियाएब

कखनो झारी बुहराब 

हो कखनो झारी बुहराब

बसहा के डगरिया, 

अहाँ के दुअरिया ना


हम गंगाजल भरी भरी लायब, 

बाबा बैजू के चढ़ायब

हम गंगाजल भरी भरी लायब, 

बाबा बैजू के चढ़ायब

बेलपत चन्दन हो बेलपत चन्दन

चढ़ायब फूल केसरिया, 

अहाँ के दुअरिया ना 


कतेक अधम के अहाँ तारलों, 

कतेक पतित के उबारलों

कतेक अधम के अहाँ तारलों, 

कतेक पतित के उबारलों

बाबा एक बेर फेरी दियौ 

हमरो पर नजरिया, अहाँ के दुअरिया ना 

बाबा बैद्यनाथ हम आयल छी 

भिखरिया अहाँ के दुअरिया ना





इस गाने का भाव है: कवि भगवान शंकर से याचना करते हुए कहता है कि बाबा बैद्यनाथ हम आपके दरवाजे यानि मंदिर में भिखारी बनकर आए हुए हैं। हम बहुत ही आशा से आपके पास आए हैं। आप हमारी मन की मुरादों को पूरा करिए। एक बार हम पर दया दृष्टि दीजिए ताकि हमारे सारे दुख कष्ट मिट जाएं। हम आपके लिए हर तरह का कार्य करने को तैयार हैं। आपके लिए बाघम्बर साफ करेंगे। आपके लिए पूजा के फूल तोड़कर लाएंगे।

1 comment

  1. Nice geet. Please do more of a stanza by stanza translation

    ReplyDelete


Your Choice Here

close