]]> uautonoma.cl


Searching...
Sunday, March 17, 2019

नयनमा से दूर कइल बलमु


गायिका: पूनम मिश्रा

एल्बम: मैथिली लोकगीत

कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
सोने की थार में भोजन परोसल
भोजन परोसल हो भोजन परोसल
सोने की थार में भोजन परोसल
करजुनी जइहा हजूर हो 
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 



चुनी चुनी फूलवा से सेज सजवनी
दूर कइल बलमु हो  दूर कइल बलमु हो 
चुनी चुनी फूलवा से सेज सजवनी
चुनी चुनी फूलवा से सेज सजवनी
कवहूं त अइब जरूर हो 
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
कवहूं त अइब जरूर हो 
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 

इतना सपनवा में तोहरा के देखलीं
इतना सपनवा में तोहरा के देखलीं
तोहरा के देखलीं हो तोहरा के देखलीं
इतना सपनवा में तोहरा के देखलीं
इतना सपनवा में तोहरा के देखलीं
काहे तोरा काहे तोरा इतना गरुर हो
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
काहे तोरा इतना गरुर हो
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
दूर कइल बलमु हो  दूर कइल बलमु हो 
कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 
कइली हम कोन कसूर  
नयनमा से दूर कइल बलमु हो 


0 comments:

Post a Comment

Popular Posts

loading...

Categories

 
Back to top!