Page Nav

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Header Ad

AudiobooksNow - Digital Audiobooks for Less

Breaking News:

latest

Ads Place

बड़ रे जतन से हम सियाजी के पोसलूँ

फिल्म- मोरे मन मितवा गायक - सुमन और कोरस गीत -  ललन संगीत- दत्ताराम बड़ रे जतन से हम सियाजी के पोसलूँ से हो रघुवंशा ले ले जाय ...



फिल्म- मोरे मन मितवा
गायक - सुमन और कोरस
गीत -  ललन
संगीत- दत्ताराम


बड़ रे जतन से हम सियाजी के पोसलूँ
से हो रघुवंशा ले ले जाय -
सखिया के अँखिया से धुलै कजरवा
झर झर नीर बहाय -
झर झर नीर बहाय -


ताकय सियाजी के हहरल हिया ले ले
ताकय सियाजी के हहरल हिया ले ले
जोड़ी से बेजोड़ी कइले जाय ।
सियाजी के सेहो रघुवंशा ले ले जाय ।
जा हे! सखी तुम मुडेरे की चिड़या
भोर भये उड़ जाय
भोर भये उड़ जाय


सुन रे सखी तू तो खूँटे की गइया,
हाँको जिधर हँक जाय
सियाजी के से हो रघुवंशा ले ले जाय ।
बड़ रे जतन से हम सियाजी के पोसलूँ
से हो रघुवंशा ले ले जाय ।

No comments