Page Nav

Grid

GRID_STYLE

True

TRUE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

जइसे बगलवाली से जान छुटल Jaiese Baglwali se Jaan Chhutal

जइसे बगलवाली से जान छुटल सामने वाली से नैना चार हो गइल एक दिना में टक्कर तेरह बार हो गइल पल भर में बदलल बदलल ...



जइसे बगलवाली से जान छुटल
सामने वाली से नैना चार हो गइल
एक दिना में टक्कर तेरह बार हो गइल
पल भर में बदलल बदलल संसार हो गइल

ऊ धीरे से हंस के नैना झुका लिहली-२
उनके खातिर बीच मुहल्ला मार हो गइल........
रंग मत पूछी कोरे कोर
गोरे गोरे पे तिल काली काली
मय से भरल जइसे छलकत हो प्याली
सोचते रही तबले ऊ पूछ दिहल
लागत बा तोहरा के कोई से प्यार हो गइल............
आही दादा फेर हमरा बोखार हो गइल-२
उनका एक अदा पे बेकरार हो गइल,

सामने...............

हाल मत पूछी ऊ जुल्मी जवानी के-२
लम्बी लम्बी केश जिंस टी शर्ट निशानी के-२
वर्णन करी कइसे चेहरा के पानी के-२
रात भर न उनहु के लागल उंघाई-२
भोरे हरिअर ड्रेस में तैयार हेा गइल,
पल..................

फिर त छत से कूदे के विचार हो गइल......................

आज काल करते सप्ताह बितल छन में-२
काल्ह त कही देब ठान लेली मन में
रातकर बीतल सपन में चमन में-२
भिनसरे जगली त भीड़ रहे लागल
पता चलल उ कोई संगे फरार हो गई-२
जियरा में घाव बरिचार हो गइल
ना जाने ऊ प्रीत के कइसन सिला दिहली,

पलभर में बदलल बदलल संसार हो गईल......................





No comments



close