Searching...
Sunday, May 24, 2015

मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

गायक : मुन्ना सिंह

ससुरा न रहब नैहर अरे जाइब हम जरूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

कान पर के गहना बेचले, बेच देहले सारी
घरबा में छोड़ले नाहीं एको लोटा थारी
जाके हम जमीन बेचले सब धूरे धूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

हमरा के कई देहले बिकइल समनवा
घरवा में जुटे नाहीं भरपेट भोजनवा
आंख दाबे पिया परल जिया पीछे हूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

भूखे पेट निंदिया सैंया जाने द किसनवा
सैंया के लोग सब मारता तानवा
ओसन के प्रेम उनकर चिखना में चनाचूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

बांधे हो नगीना हम नैहर चली जाइब
बेहया कूहड़वा से मुंह ना देखाइब
सब दुख कहब बाबू माई से जरूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

ससुरा न रहब नैहर अरे जाइब हम जरूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे
अरे मिलल बा शराबी सैंया नसबे में चूर हे

0 comments:

Post a Comment

loading...

advertisement

 
Back to top!