Searching...

search

Tuesday, October 24, 2017

राऊरे दरस लागी


गायक : अनुराधा पौडवाल व साथी
फिल्म : छठ गीत
गीतकार : पारंपरिक

राऊरे दरस लागी तन मन व्याकुल
राऊरे दरस लागी तन मन व्याकुल
लीकेना अरग हमार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार

राऊरे से तीनों लोक में अंजोरिया
राऊरे से तीनों लोक में अंजोरिया
सृष्टि के चले संसार हे दीनानाथ
हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार

देव अंगारी में मंदिर सूरुज के
देव अंगारी में मंदिर सूरुज के 
भक्तन करीला जय जयकार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार

तेज बढ़ाइले रोग मिटाइले
तेज बढ़ाइले रोग मिटाइले
हईं रउवे सृजनहार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार

हम हईं अज्ञानी पूजा ना पाठ जानी
हम हईं अज्ञानी पूजा ना पाठ जानी
तों सब करब जनि विचार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार
हे दीनानाथ हरी ना मन के अन्हार

0 comments:

Post a Comment

loading...

advertisement

 
Back to top!