Page Nav

Grid

GRID_STYLE

True

TRUE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां Maati Mein Milal Jaata Chadhal Jawaniya

फिल्म: मुन्नीबाई नौटंकी वाली  गायक/गायिका: कल्पना  गीतकार: श्याम देहाती  संगीतकार: मधुकर आनंद    जुल्मी जमाना ना समझे दरदिया केही ...








फिल्म: मुन्नीबाई नौटंकी वाली 

गायक/गायिका: कल्पना 

गीतकार: श्याम देहाती 

संगीतकार: मधुकर आनंद  



जुल्मी जमाना ना समझे दरदिया

केही से कही दिल के बात

कहलो ना जाला रहलो ना जाला

मुश्किल से कटे दिन रात

अइसन हो अइसन निर्दैया सुधियो न लेबे

भेजे न कवनो खबरिया

बाटे जोहत पथरा गइल अंखियां

कब अइहैं हमरो संावरिया

कब अइहैं हमरो संावरिया

अंखियां से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

अंखियां से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता 

अंखियां से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

अंखियां से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता 


बने से पहिले उजड़ गईल खोता

आरे बने से पहिले हो राम हाय

बने से पहिले 

बने से पहिले 

बने से पहिले उजड़ गईल खोता

ए परदेसी बरदास नहीं होता

लोग बाग़ हमके मारे ला ताना

ऐही से रहिले हम छिप के अलोटा

हो हो हो हो 

अबहीं अधूरा बाटे 

अबहीं अधूरा बाटे प्यार के कहनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता 


जनतानी हमके पिया नहीं बिसराइब 

नाहीं बिसराइबा बालमजी

जनतानी हमके पिया नहीं बिसराइब 

आज न त काल्ह राजा कबहु त अइब

कब तक ले देखब रहिया जब तक परान बा

हमरा पे दया बालम कबहुं त खैइब

हो हो हो हो हो हो हो हो

रहे याद तोहार 

रहे याद तोहार दिहल बचनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता 


अंखिया से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

अंखिया से ढरके पिययु ढर ढर पनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता चढ़ल जवनियां

माटी में मिलल जाता 

माटी में मिलल जाता 






No comments



Ads Place

15% OFF NTIRE VAPE \ ORDER
close