Searching...
Sunday, July 3, 2016

बान्ह के राखब रसरिया से रसरिया से


फिल्म : गंगा जैसन भौजी हमार
गायिका : अल्का याज्ञनिक
गीतकार : समीर
संगीतकार : चित्रगुप्त


बान्ह के राखब रसरिया से रसरिया से
कहंबा बचके जइब
जइब तू जौने डगरिया से डगरिया
तहबा हमके पइब
बान्ह के राखब रसरिया से हाय रसरिया से
कहंबा बचके जइब
बान्ह के राखब रसरिया से 
हां

चाहे बाबू केतना लगा लऽ तू जोर
अइब चलि अइब खींचल हमरी ओर
चाहे बाबू केतना लगा लऽ तू जोर
अइब चलि अइब खींचल हमरी ओर
तोह खींचब तोहे बांधब देख अपनी नशीली नजरिया
देखऽ अपनी नशीली नजरिया से नजरिया से
कहंबा बचके जइबऽ
बान्ह के राखब रसरिया से रसरिया से
हां

हमरी पिरितिया के समझऽ न खेल
एक दिन करे के परी हमरा से मेल
हमरी पिरितिया के समझऽ न खेल
एक दिन करे के परी हमरा से मेल
मन ऐसे हो मिली जैसे
असमनवा पे बदरा बिजुरिया से
असमनवा पे बदरा बिजुरिया से हाय बिजुरिया से
कहंबा बचके जइब
बान्ह के राखब रसरिया से रसरिया से
हां

जब जब छोड़ मोहे जाला परदेस
नाजुक जिया पे मोरे लागेला ठेस
जब जब छोड़ मोहे जाला परदेस
नाजुक जिया पे मोरे लागेला ठेस
एहि बेरिया हो खाल किरिया
अब जइब न हमरी नजरिया से
अब जइब न हमरी नजरिया से नजरिया से
कहंबा बचके जइब
बान्ह के राखब रसरिया से रसरिया से
कहंबा बचके जइब
जइब तू जौने डगरिया से हाय डगरिया से
तहबा हमके पइब
बान्ह के राखब रसरिया से  
हां

0 comments:

Post a Comment

loading...

advertisement

 
Back to top!