Searching...
Sunday, April 17, 2016

सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा


गायक : मनोज तिवारी मृदुल
एल्बम : चैता, चैइती


सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा, बीच रे अंगनवा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा, बीच रे अंगनवा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा, बीच रे अंगनवा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा, बीच रे अंगनवा

देवरू दुअरवा से दौरल आइले
देवरू दुअरवा से दौरल आइले
देवरू दुअरवा से दौरल आइले
देवरू दुअरवा से दौरल आइले
दौरल अइले जी दौरल अइले
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे अंगनमवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा

देवरू दुअरवा से दौरल आइले
देवरू दुअरवा से दौरल आइले
दौरल अइले हो दौरल अइले
दौरल अइले जी दौरल अइले
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे अंगनमवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा
अरे ठाढ़ï भइले हमरे समनवा हो रामा 
बीच रे अंगनवा

ओटवा से झांके ली चतुर जेठनिया
ओटवा से झांके ली चतुर जेठनिया
चतुर जेठनिया हो चतुर जेठनिया
चतुर जेठनिया जी चतुर जेठनिया
अरे लाज में परली परनमा हो रामा 
अरे लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 
लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 
लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 
लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 

ओटवा से झांके ली चतुर जेठनिया
ओटवा से झांके ली चतुर जेठनिया
चतुर जेठनिया हो चतुर जेठनिया
चतुर जेठनिया जी चतुर जेठनिया
लाज में परली लाज में परली ïपरनमा हो रामा 
लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 
लाज में परली परनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा हो रामा 
बीच रे अंगनमा अरे बीच रे अंगनमा 
बीच रे अंगनमा जी बीच रे अंगनमा 
बीच रे अंगनमा जी बीच रे अंगनमा 
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुरावे हो रामा बीच रे अंगनमा
सपने में सैंया गुदुराऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽऽ

0 comments:

Post a Comment

loading...

advertisement

 
Back to top!