Page Nav

Grid

GRID_STYLE

True

TRUE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

जो रे चान जो इ सनेस नेने जो Jo Re Chaan Jo E Sanes Nene Jo

गायक : हरिनाथ झा फिल्म : गजल गीतकार : पापंरिक, मैथिली संगीतकार : हरिनाथ झा आ आ आ आ आ आ आ आ आ जो रे चान जो इ सनेस नेन...


गायक : हरिनाथ झा
फिल्म : गजल
गीतकार : पापंरिक, मैथिली
संगीतकार : हरिनाथ झा


आ आ आ आ आ आ आ आ आ
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छैथ छोट छिन गप लैय रूसल पहुना


जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना

भेल चूक किया एहन जे तोरल पिरीत
कोना मेट देल दैबक जे लिखल पिरीत
भेल चूक किया एहन जे तोरल पिरीत
कोना मेट देल दैबक जे लिखल पिरीत
किया द देब एटेक कठोर नै होता 
कोना घोरे में हमरा बनवास द देता 
किया द देब एटेक कठोर नै होता 
कोना घोरे में हमरा बनवास द देता
दिया उलहन 
दिया उलहन इ तिकुली खिझाबै कंगना
दिया उलहन इ तिकुली खिझाबै कंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना

मन पायर दिहल थामल अभगलीक हाथ
तोरे सोझा में जिनगी भर रहैक साथ
मन पायर दिहल थामल अभगलीक हाथ
तोरे सोझा में जिनगी भर रहैक साथ
क्रोध पुरूष क पहिचान मुदा ऐतक नै ठीक
केकरो नै जिनगीक सवाल पर इ चुप्पी नै नीक
क्रोध पुरूष क पहिचान मुदा ऐतक नै ठीक
केकरो नै जिनगीक सवाल पर इ चुप्पी नै नीक
कर टोना 
कर टोना वा विनती मनाबै कहुना
कर टोना वा विनती मनाबै कहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना

प्रान तजितौं मुदा सब खिस्सा बनाएत
इतिहास हुनक नाम चिन्ह प्रश्नक लगाएत
प्रान तजितौं मुदा सब खिस्सा बनाएत
इतिहास हुनक नाम चिन्ह प्रश्नक लगाएत
जौं जीव त अपना उपहास बनि कै
इस व्यथा जा सुनाबि कतेक कानि कै
जौं जीव त अपना उपहास बनि कै
इस व्यथा जा सुनाबि कतेक कानि कै
धिया रहति
धिया रहति कतेक दिन बाबा के अंगना
धिया रहति कतेक दिन बाबा के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना

जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
जो रे चान जो इ सनेस नेने जो
दू कोस पूर्व जा क उग पिया के अंगना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
छै छोट छिन गप लैय रूसल पहुना
हूं हूं हूं हूं हूं हूं




No comments



close