Page Nav

Grid

GRID_STYLE

True

TRUE

Hover Effects

TRUE

Pages

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

अँखियाँ लड़ल जब से दिल में करार नइखे Ankhiyan Ladal Jab Se Dil Mein Kara Naiekhe

In this song, the poet says that ever since I have seen you, love is overflowing in my mind. How can we say that you don't love me? I...


In this song, the poet says that ever since I have seen you, love is overflowing in my mind. How can we say that you don't love me? It was not like this before. Ever since we got it, we do not care about anything. How desperate we are in wanting to see you, it has become like a disease. Keep thinking about you. My heart also keeps beating in your name. Now the purpose of living life is only that your hand is in my hand. There is no one other than you in this life.


फिल्म :सैंया के साथ मड़ैया में

गायक : पवन सिंह

गीतकार:विनय बिहारी

संगीतकार: राजेश गुप्ता

लेबल: वेव म्यूजिक


अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे

अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे

अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे

हम कैइसे कहीं हमके

तोहरा से प्यार नइखे

हम कैइसे कहीं हमके

तोहरा से प्यार नइखे

अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे

अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे



पहले न हाल कबहूं

अइसन रहे इ दिल के

पहले न हाल कबहूं

अइसन रहे इ दिल के

कुछ बुझात नइखे तोहसे 

का हो गइल बा मिलके

कुछ बुझात नइखे तोहसे 

का हो गइल बा मिलके

अइसन बेमारी धैइलस

कौनो सुधार नइखे

अखियां लड़ल बा जब से

दिल में करार नइखे



सोचत रहीला तोहके

तोहरे नामे दिल बा धड़के

सोचत रहीला तोहके

तोहरे नामे दिल बा धड़के

जिनगी जिए के मन बा

बहियां तोहर पकड़ के

जिनगी जिए के मन बा

बहियां तोहर पकड़ के

तोहरा सिवा इ जग में

केहू हमार नइखे

तोहरा सिवा इ जग में

केहू हमार नइखे



इस गीत में कवि कहता है कि जब से तुम्हें देखा है मन में प्यार ही प्यार उमड़ रहा है। हम कैसे कहें कि तुमसे प्यार नहीं है। पहले तो ऐसे नहीं था। जब से मिली हो तब से हमें कुछ भी ख्याल नहीं रहता है। तुम्हें देखने की चाह में हम कितना बेकरार रहते हैं, यह एक बीमारी की तरह हो गई है। तुम्हारे बारे में सोचते रहते हैं। मेरा दिल भी तुम्हारे नाम से धड़कता रहता है। अब तो जिंदगी जीने का मकसद एक ही है कि तुम्हारा हाथ मेरे हाथ में हो। तुम्हारे सिवा और कोई नहीं है इस जीवन में। 

No comments



Ads Place

15% OFF NTIRE VAPE \ ORDER
close